Bookmark Mail this page Print this page
QUICK LINKS

Outage:- The average freight availability achieved upto the month Sept'18 is 142.62 which is 3.99% above the target of 137.15 and coaching availability is 24.37 against the target of 24.00.


Scrap Disposal: - Ferrous scrap against proportionate target 150 MT and Non ferrous scrap against proportionate target 7.50 MT disposal upto the month Sept'18 is 70.140 MT and 2.503 MT respectively.


Vigilance control device: - VCD have been provided on all Raipur based mainline and all shunting locos. 


HHP locos:  HHP passenger locos (WDP4D) provided with dual cab facilitate running staff with better visibility in section and improve the safety during train operation.


New HHP Shed: New HHP shed, Raipur has been commissioned. The maintenance of locomotive in this shed has been started from 11.09.2017.  


Plantation: Officers of Raipur Division and DLS/Raipur shed staff were involved in the huge plantation campaign, in which around 10,000 saplings of 20 different species were planted in the existing shed premises and new HHP loco shed premises throughout the month. Required quantity of saplings were supplied free of cost by Forest Department, Government of Chhattisgarh.


उपलब्धता: सितंबर18 महीने तक के औसत माल भाड़ा उपलब्धता लक्ष्य 137.15से ऊपर142.62हासिल की है जो कि निर्धारित लक्ष्य के मुकाबले 3.99अधिक है और कोचिंग में लक्ष्य24.00के मुकाबले 24.54है।


स्क्रैप निपटान: सितंबर’18 महीने तक के लौह स्क्रैप का लक्ष्य 150.00मीट्रिक टन और गैर लौह स्क्रैप का लक्ष्य6.25मीट्रिक टन निपटान के खिलाफ लौह स्क्रैप70.190 मीट्रिक टन और2.503मीट्रिक टन क्रमशः हुआ है।


विजिलेंस कंट्रोल डिवाइस: रायपुर के सभी मेनलाइन और शंटिंग इंजनोमे विजिलेंस कंट्रोल डिवाइस प्रदान किया जा चुका है


एचएचपीलोको: एचएचपी सवारी लोको (डब्ल्यूडीजी4डी) में दोहरे कैब प्रदान करने से ड्राईवर को पारिचालन के दौरान बेहतर दृश्यता और सुरक्षा की सुविधा में सुधार हुआ है 


 नया एचएचपी शेड: नई एचएचपी शेड,रायपुर मे लोकोमोटिव का रखरखाव का काम शुरू कर दिया गया है। इस शेड में11.09.2017.


 वृक्षारोपण: इस महीनेरायपुर डिवीजन के अधिकारी एवं डीएलएस/रायपुर केशेड स्टाफ विशाल वृक्षारोपण अभियान चलाया गया था, जिसमें मौजूदा शेडपरिसर और एचएचपी लोको शेडपरिसर में 20विभिन्न प्रजातियों के 10,000पौधे लगाए गए थे । वन विभाग,छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा आवश्यक मात्रा में पौधों की आपूर्ति की गई थी।





















 













 










Source : South East Central Railway CMS Team Last Reviewed on: 08-10-2018